एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

  • 70 Positive points Anmol Vichar - 70 positive points 👏👏👏👏👏👏👏👏👏👏👏 1:- जीवन में वो ही व्यक्ति असफल होते है, जो सोचते है पर करते नहीं । 2 :- भगवान के भरोसे मत बैठिये क्या...
    3 दिन पहले

रविवार, 25 सितंबर 2011

जिन्दगी ये किस मोड पे ले आयी है

"जिन्दगी ये किस मोड पे ले आयी है"





ना मा, बाप, बहन , ना यहा कोई भाई है

हर लडकी का है बॉय 

फ्रेंड , हर लडके ने गर्ल फ्रेंड पायी है ,
चंद दिनो के है ये रिश्ते , फिर
वही रुसवायी है .
घर जाना होम Sickness कहलाता है ,
पर गर्ल फ्रेंड से मिलने को टाईम रोज मिल जाता है
दो दिन से नही पुछा मां की तबीयत का हाल
गर्ल फ्रेंड से पल - पल की खबर पायी है
जिन्दगी ये किस मोड पे ले 
आयी है ….
कभी खुली हवा मे घुमते थे ,
अब AC की आदत लगायी है
धुप हम से सहन नही होती ,
हर कोई देता यही दुहाई है,
मेहनत के काम हम करते नही ,
इसीलिये जिम जाने की नौबत आयी है,
McDonalds, 
पिजा Hut जाने लगे,
दाल- रोटी तो मुश्कील से खायी है .
जिन्दगी ये किस मोड पे ले आयी है …..
वर्क Relation हमने बडाये
पर दोस्तो की संख्या घटायी है .
Professional ने की है तरक्की ,
Social ने मुंह की खायी है.
जिन्दगी ये किस मोड पे ले आयी है!
रचना भेजने वाले:- योगेश राजपुरोहित 

अगर आप इस ब्लॉग के साथ कुछ भी शेयर/बँटना चहाते हैँ तो लिख भेजिए अपनी कोई भी रचना आपका नाम और ब्लॉग पते के साथ हम उसे इस ब्लॉग मेँ स्थान देँगे आपके नाम व ब्लॉग पते के साथ पर प्रकाशित करने से पहले उस पर विचार किया जाएगा!
अत:- इस लिए प्रकाशित होने मेँ समय लग सकता है!

*******************
  हमारा ई-मेल पता है :- sawaisinghraj007@gmail.com
1blog.sabka@gmail.com 

प्रस्तुतकर्ता :- सोनू शर्मा 

12 टिप्‍पणियां:

  1. प्रस्तुति स्तुतनीय है, भावों को परनाम |
    मातु शारदे की कृपा, बनी रहे अविराम ||

    उत्तर देंहटाएं
  2. आज के जीवन की रहनी सहनी की काव्यात्मक व्यंग्य प्रधान प्रस्तुति .बेहद खूबसूरत महौली ,परिवेश प्रधान रचना .

    उत्तर देंहटाएं
  3. करता हर गलती इंसान है,
    जिंदगी मुफ्त में बदनाम है।

    उत्तर देंहटाएं
  4. आज के युवाओं की जिंदगी को प्रस्तुत करती सुंदर रचना ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सही लिखा है आपने
    सुंदर रचना!

    उत्तर देंहटाएं
  6. बढ़िया और सुंदर विचारों के लिए आभार आपका

    उत्तर देंहटाएं
  7. योगेश जी की कविता के भाव हमारे लिए प्रेरक हैं।
    इस ब्लॉग को पहली बार देखा। अच्छा लगा।

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची