एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

  • आज का सुविचार - ********आज का सुविचार ******** " दरिया ने झरने से पूछा की तुझे समुन्दर नहीं बनना क्या...? झरने ने बड़ी नम्रता से कहा, बड़ा बनकर ...
    5 सप्ताह पहले

शुक्रवार, 27 अप्रैल 2012

अच्छे बच्चे कभी न लड़ते --बाल गीत ...डा श्याम गुप्त ..

शोर मचाकर छवि यूं बोली,
मुझको मुन्नी ने मारा।
मुन्नी बोली छवि ने मारा,
छवि बोली मुन्नी ने मारा।

परेशान हो अंकल बोले ,
अच्छा  दोनों बतलाओ।
किसको कहाँ कहाँ आयी है,
चोट ज़रा सा दिखलाओ।

मुन्नी बोली चलते चलते,
 सबने लिया सहारा था ।
पर छवि ने अपने पैरों,
 से मेरे पैर में मारा था।

हल्का सा नाखून हुभा था,
दर्द वहां पर होता है ।
छवि बोली नाखून, अरे!
सबके पैरों में होता है।


फिर कैसे तुम कह सकती हो, 
छवि ने पैर से मारा था।
सबने चलते समय लिया जब ,
इक दूजे का सहारा था।

रीता बोली मेरे तो,
 नाखून नहीं है यह देखो ।
मीता बोली मैं तो देखो,
छोटे छोटे रखती हूँ ।

अंकल बोले अच्छी बात है,
जो नाखून साफ़ रखते ।
गलती सब से होती है ,पर
अच्छे बच्चे कभी न लड़ते ।।
                                                   
 


6 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया प्रस्तुति!
    घूम-घूमकर देखिए, अपना चर्चा मंच
    लिंक आपका है यहीं, कोई नहीं प्रपंच।।
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  2. धन्यवाद सन्गीता जी.....

    ---धन्यवाद शास्त्रीजी ...आभार...

    उत्तर देंहटाएं
  3. बढ़िया बाल रचना .बधाई स्वीकार करें .

    कृपया यहाँ भी पधारें रक्त तांत्रिक गांधिक आकर्षण है यह ,मामूली नशा नहीं
    शुक्रवार, 27 अप्रैल 2012

    http://kabirakhadabazarmein.blogspot.in/2012/04/blog-post_2612.html
    मार -कुटौवल से होती है बच्चों के खानदानी अणुओं में भी टूट फूट
    Posted 26th April by veerubhai
    http://kabirakhadabazarmein.blogspot.in/2012/04/blog-post_27.html

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची