एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

शुक्रवार, 5 अक्तूबर 2012

श्याम स्मृति.....खाली पेट नहीं रहा होगा .. ड़ा श्याम गुप्त ..



श्याम स्मृति-----
               मैं यह नहीं कहूँगा कि हमारे पुरखों ने वायुयान बना लिए थे, वे भी ऊपर के लोकों को जा चुके थे, आज के नवीन अस्त्र-शस्त्र  भी उनके समय में थे | परन्तु पुष्पक विमान से उड़ाने की कल्पना कर सकने वाला समाज निश्चय ही खाली पेट नहीं रहा होगा ...रोटी, कपड़ा और मकान की समस्या हल कर चुका होगा |

9 टिप्‍पणियां:

  1. उत्तर
    1. धन्यवाद मनु जी ....यह आधुनिक मनुस्मृति है जी...

      हटाएं
  2. सही है वैसे भी जब सिर पर रोटी कपडा और मकान की धुन सवार रहती है तब और कुछ नहीं सूझता .सार्थक प्रस्तुति आभार अरविन्द की पार्टी :क्या अलग है इसमें -कुछ नहीं

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. धन्यवाद शालिनी जी...रोटी कपड़ा और मकान प्राप्ति हेतु तो प्रयत्न अत्यावश्यक हैं ही ...बस लिप्तता न हो ...तो अन्य महत प्रश्नों व ईश्वर-चिंतन हेतु समय मिल ही जाता है ..दोनों आवश्यक हैं ...यही मोक्ष है ....

      हटाएं
  3. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार (06-10-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  4. स्विस बैंक उस
    समय शायद
    नहीं होता होगा
    नेता होता होगा
    पर सो रहा
    होता होगा
    रोटी खाते होंगे
    लोग बस
    पैसा कोई शायद
    उस समय
    नहीं खा रहा होगा !

    उत्तर देंहटाएं
  5. धन्यवाद --सुशील जी ...
    चैन से खुद सोता होगा नेता,
    औरों को भी होगा,सोने देता |
    मनुष्य रहता होगा मस्त ऐसा,
    नहीं खाता होगा कोई पैसा ||

    उत्तर देंहटाएं
  6. धन्यवाद --सुशील जी ...
    चैन से खुद सोता होगा नेता,
    औरों को भी होगा,सोने देता |
    मनुष्य रहता होगा मस्त ऐसा,
    नहीं खाता होगा कोई पैसा ||

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची