एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

बुधवार, 7 नवंबर 2012

लिव इन रिलेशन की हकीकत ...एवं परिणति ...डा श्याम गुप्त

8 टिप्‍पणियां:

  1. मानव पुरखों से रहा, कहीं आज अगुवाय |
    मन मेदा मजबूत मनु, लेता जहर पचाय |
    लेता जहर पचाय, खाय ले मार गालियाँ |
    कर कुकर्म मुसकाय, किया था क़त्ल हालिया |
    घर बलात घुस जाय, हुआ बलशाली दानव |
    अपसंस्कृति व्यवहार, आज मानव ना मानव ||

    उत्तर देंहटाएं
  2. उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।।

    आज इस ब्लॉग पर 450 वीं पोस्ट

    उत्तर देंहटाएं
  3. galat ka anjaam hmesha galat hi hota hai ....galat raste se ham sahi manzil par kabhi nahi ja sakte ....

    उत्तर देंहटाएं
  4. ----धन्यवाद रविकर ..सही --अपसंस्कृति व्यवहार, आज मानव ना मानव |
    --- धन्यवाद निशाजी एवं मधु जी.... अंजाम वही होगा जो होरहा है...

    उत्तर देंहटाएं
  5. धन्यवाद राजेश जी --सही कहा ह्यूमरस ...
    --धन्यवाद सफत जी ...

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची