एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

  • 70 Positive points Anmol Vichar - 70 positive points 👏👏👏👏👏👏👏👏👏👏👏 1:- जीवन में वो ही व्यक्ति असफल होते है, जो सोचते है पर करते नहीं । 2 :- भगवान के भरोसे मत बैठिये क्या...
    3 दिन पहले

शनिवार, 28 जनवरी 2012

बसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएँ।

वसंत के आने से चमक लौट आई है
तुम्हारी आँखों में
वे अधिक चंचल सी
हो गईं लगतीं हैं
उन में मादकता
 टपक 2 पड़ रही है 

ओसे ही
चौकन्ने हुए लग रहे हैं
तुम्हारे कान
कोई भी आह्ट चौंका
देती है उन्हें
ऋतू आसक्त मृगी की भाँति
कोई मधुर स्वर स्वत:
अनुगुंजित हो रहा है उन में

ऐसे ही बिखर रही है
तुम्हारे पास वह गंध
जो वसंत आने पर ही
प्रस्फुटित हिती है
नव पल्लवों से
नव कलिकाओं से

या नव वनस्पतियों के अंग २ से
और जो बसंती बयार बार २
छो रही है तुम को
जिसे तुम्हारे स्पर्श ने
कुछ और अधिक कमनीयता
प्रदान कर दी है
और मन तो जैसे
बौरा ही गया है

बसंत के आने से

आखिर उस ने ही तो
कर दिया है सब बसंती
नही तो इस पतझरे काष्ठ में
कहाँ था यह सब

जिसे तुम बसंती कह रही हो
जिसे तुम मधुमय कह रही हो ||
************
मैं चाहता था खूब सारा पिला रंग घोलूँ
और तुम्हे सराबोर कर दूं उस में
तुम्हारा अंग २ पवित्र सा हो जाये
तुम पीत वसना हो कर
वसन्ति सुगंध से भर जाओ

परन्तु पसंद नही था तुम्हें
यह रंग बिलकुल भी
तुम तो चाहतीं थीं
गुलाबी रंग में सराबोर होना
परन्तु मेरे लिए
विरोध भी नही क्या था तुमने
और स्वीकार भी नही था तुम्हें वह रंग
क्यों कि हम दोनों ही

अभी अनजान थे
उस रंग से जिस में सराबोर होना था
हम दोनों को
आओ कोशिश करें
उस रंग को घोलने की !!
  
 रचना भेजने वाले :- श्री डॉ. वेद व्यथित जी
ब्लॉग का नाम :- साहित्य सर्जक
उसका लिक़ http://sahityasrajakved.blogspot.com

एक ब्लॉग सबका की ओर से ब्लाग जगत के सभी साथियों को
वसंत पंचमी की हार्दिक बधाइयाँ !!
  
 
यदि हमारा प्रयास आपको पसंद आये तो फालोवर अवश्य बने 
मुझे अपने अनुभव बताएं, जिससे कि मैं इसे और बेहतर करने का प्रयास कर सकूं!
 ** धन्यवाद ** 
    सवाई सिंह राजपुरोहित  

17 टिप्‍पणियां:

  1. आपको भी वसंत पंचमी की हार्दिक बधाइयाँ शुभकामनाए.....

    उत्तर देंहटाएं
  2. इस ब्लॉग के माध्यम से सभी को बसंत पंचमी की ढेर सारी शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपको सपरिवार बसंतपंचमी की शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपको भी सपरिवार बसंत पंचमी की शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची