एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

  • आज का सुविचार - ********आज का सुविचार ******** " दरिया ने झरने से पूछा की तुझे समुन्दर नहीं बनना क्या...? झरने ने बड़ी नम्रता से कहा, बड़ा बनकर ...
    2 माह पहले

बुधवार, 4 अप्रैल 2012

सफलता ही सब कुछ है....चाहे डर्टी बनें .. डा श्याम गुप्त...

             यदि आपको सफलता अच्छे कार्यों , अच्छी कृतियों, सीधे सरल रास्तों से न मिले तो टेड़े-मेड़े, उल-जुलूल  मार्ग अपनाएं चाहे डर्टी  ही बनना पड़े .. ..  सफल होजाएं और सफलता के गुरु- मन्त्र देने वाले बन जाएँ ।
--- अच्छे तरीकों  में असफल हों ..तो दोबारा नक़ल या शकल का सहारा लें  फिर इम्तिहान दें ...
--- सर्वश्रेष्ठ दें---चाहे शरीर दिखाना पड़े ..
---- नुक्ता चीनी से न घबराएं .... चाहे वह गुणात्मक हो....
---- भेड़चाल से बचें ..... कुछ नया करें चाहे कुछ भी करना पड़े....
---- सीधे सरल मार्ग पर चलने की गलतियाँ सुधारें  ...सफलता ही सब कुछ है...चाहे जैसे मिले...

           ------------ क्या सोचतेहैं आप इस करियर काउंसिलिंग के बारे में ......



11 टिप्‍पणियां:

  1. जिस मार्ग पर चलने से सफलता मिले वही श्रेष्ठ है .ऊंच नीच ,नीति अनीति मर्यादा आदि का ख़याल न करे .तिहाड़ तक जाने की पात्रता आपमें हो .यही है आज सर्वोत्तम होकर शिखर पर बने रहने का नुश्खा .

    उत्तर देंहटाएं
  2. करो परीक्षा पास तुम, नक़ल शकल दम घूस ।
    खड़ी व्यवस्था राज की, नक्सल बनकर चूस ।


    नक्सल बनकर चूस, अधिकतर लोग उपेक्षित ।
    किस्मत जो मनहूस, लूट लो चीजें इच्छित ।

    चहकें झंडे गाड़, कैरिअर गुरु की दीक्षा ।
    लारो सफलता प्राप्त, पास ना करो परीक्षा ।।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. लाव सफलता पास, पास ना करो परीक्षा ।।

      हटाएं
    2. सुन्दर कुन्डली छंद.... धन्यवाद रविकर जी...

      हटाएं
  3. उत्तर
    1. ----बात नज़रिये की ही तो है सन्गीता जी...कि नज़रिया गलत है या सही....अपना अपना कुछ नहीं होता ....अच्छा या बुरा...सत्य या असत्य...सही या गलत...

      हटाएं
  4. यह उत्कृष्ट प्रस्तुति
    चर्चा-मंच भी है |
    आइये कुछ अन्य लिंकों पर भी नजर डालिए |
    अग्रिम आभार |
    FRIDAY
    charchamanch.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची