एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

  • आज का सुविचार - ********आज का सुविचार ******** " दरिया ने झरने से पूछा की तुझे समुन्दर नहीं बनना क्या...? झरने ने बड़ी नम्रता से कहा, बड़ा बनकर ...
    2 माह पहले

शनिवार, 21 अप्रैल 2012

इंसानियत की मौत

दुर्घटना में घायल आदमी
पड़ा था बीच सड़क पर
सना अपने ही खून में.
दौड़ती कारें
बचकर निकल गयीं,
स्कूटर से उतर कर लोग
तमाशाइयों की भीड़ में
घुस कर देखते 
और आगे बढ़ जाते.
तड़पता रहा घायल
पर बढ़ा नहीं कोई हाथ
उसे उठाने.


सड़क दुर्घटना में मरनेवालों की
संख्या एक और बढ़ गयी,
लेकिन गिनती नहीं हुई 
उस इंसानियत की 
जो उसके साथ ही मर गयी.


कैलाश शर्मा 

7 टिप्‍पणियां:

  1. मार्मिक सत्य...

    मेरे बलॉग का URL
    http://madhurgunjan.blogspot.in/

    उत्तर देंहटाएं
  2. बेहतरीन रचना..
    दुखद एवं मार्मिक.....

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  3. मेरे ब्लोग्स के URL


    1.http://aadhyatmikyatra.blogspot.in/
    2.http://batenkuchhdilkee.blogspot.in/
    3.http://bachhonkakona.blogspot.in/
    4.http://sharmakailashc.blogspot.in/

    उत्तर देंहटाएं
  4. लेकिन गिनती नहीं हुई
    उस इंसानियत की
    जो उसके साथ ही मर गयी.

    ----kya baat hai...sundar

    उत्तर देंहटाएं
  5. संवेदनहीनता दिनोंदिन बढ़ रही है,यही सोच का विषय है !

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची