एक ब्लॉग सबका में आप सभी का हार्दिक सुवागत है!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं!

यह ब्लॉग समर्पित है "सभी ब्लोग्गर मित्रो को"इस ब्लॉग में आपका स्वागत है और साथ ही इस ब्लॉग में दुसरे रचनाकारों के ब्लॉग से भी रचनाएँ उनकी अनुमति से लेकर यहाँ प्रकाशित की जाएँगी! और मैने सभी ब्लॉगों को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी ब्लोग्गर मित्रो खोजने में सुविधा हो सके!

आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं

तो फिर तैयार हो जाईये!

"हमारे किसी भी ब्लॉग पर आपका हमेशा स्वागत है!"



यहाँ प्रतिदिन पधारे

  • आज का सुविचार - ********आज का सुविचार ******** " दरिया ने झरने से पूछा की तुझे समुन्दर नहीं बनना क्या...? झरने ने बड़ी नम्रता से कहा, बड़ा बनकर ...
    5 सप्ताह पहले

गुरुवार, 9 अगस्त 2012

भगवान  श्री कृष्ण जी जिन्होंने दुष्टों व राक्षसों का नाश किया रोहणी अष्टमी को उन का जन्मोत्सव है उन के जन्मोत्सव  को इसी रूप में मनाना हर हिन्दू का कर्तव्य है कि उन से प्रेरणा ले कर हम सब हिन्दू धर्म की रक्षा का इस अवसर पर प्रण लें क्यों कि भगवान इसी हेतु प्रथ्वी पर प्रकट हुए थे वर्तमान समय में केवल झांझ बजाने से या कीर्तन करने से दुष्टों का नाश नही होगा या खाली व्रत करने भर से दुष्ट सुधर जायेंगे यह भूल हम बहुत कर चुके हैं अब जागने का अवसर हैं आओ अपने धर्म की रक्षार्थ उठें और धर्म की रक्षा करें यही जन्मोत्सव की सार्थकता होगी तभी भगवान हम से प्रसन्न होंगे जब हम उन के कार्यों को करेंगे और धर्म विरोधियों का नाश ही भगवान का वास्तविक कार्य है |

2 टिप्‍पणियां:

  1. जन्माष्टमी मुबारक !बाबा राम देव अलख जगा चुकें हैं .पाप का घडा एक दीं भरता ज़रूर है .गुस्सा देखा मम्मी जी का आडवाणी जी पे कैसा बरसीं (हिंदी सीख गईं हैं )?आडवाणी जी ने क्या गलत कहा था यू पी ए टू(सन्दर्भ २००८ जब सांसद खरीद फ़रोख हुई थी )और असम सरकार जो बांग्ला देशी वोटों से बनी है दोनों अवैध हैं बोडो की खेती बाड़ी भी छीन ली .एक यहाँ मुख्यमंत्री हुए थे कहते थे मुझे कोई नहीं हटा सकता मेरे पास बिहारी मजदूर और बांग्ला देशी हैं जितने मर्जी दाखिल होने दूं असम में ऐसी सरकार अवैध न होगी तो क्या होगी .

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपने सही कहा की"भगवान श्री कृष्ण जी जिन्होंने दुष्टों व राक्षसों का नाश किया रोहणी अष्टमी को उन का जन्मोत्सव है उन के जन्मोत्सव को इसी रूप में मनाना हर हिन्दू का कर्तव्य है कि उन से प्रेरणा ले कर हम सब हिन्दू धर्म की रक्षा का इस अवसर पर प्रण लें क्यों कि भगवान इसी हेतु प्रथ्वी पर प्रकट हुए थे "...बहुत सुन्दर प्रस्तुति..

    उत्तर देंहटाएं

एक ब्लॉग सबका में अपने ब्लॉग शामिल करने के लिए आप कमेन्ट के साथ ब्लॉग का यू.आर.एल.{URL} दे सकते !
नोट :- अगर आपका ब्लॉग पहले से ही यहाँ मौजूद है तो दोबारा मुझे अपने ब्लॉग का यू.आर.एल. न भेजें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

लिखिए अपनी भाषा में

मेरी ब्लॉग सूची